2018 प्राइवेसी को ख़तरा, मोबाइल की ये 3 सेटिंग्स तुरंत बंद करें

0
371

अगर आपने भी अपने मोबाइल फ़ोन की ये ३ सेटिंग्स चालू रखीं हैं तो हो सकता है आप पे भी नज़र रखी जा रही हो। अब नज़र रखने वाले कोई भी हो सकते हैं, पर सबसे ज्यादा ख़तरा है साइबर क्रिमिनल्स से।  जी हाँ ये वही डिजिटल लुटेरे हैं जो लोगों के बैंक अकाउंट और सोशल प्रोफाइल्स के पॉसवर्ड चुरा लेते या हैक कर लेतें हैं।  बीते कुछ वर्षों में साइबर अपराध कंट्रोल करने वाली साइबर सेल्स के पास प्राइवेट फोटोज और वीडियोस से लेकर महत्वपूर्ण डाटा चोरी होने तक की शिकायतों में बढ़ोत्तरी हुई हैं। तो चलिए जानतें हैं उन मोबाइल फ़ोन सेटिंग्स के बारे में जिन्हें बंद करने में ही आपकी भलाई है।

आपने अपने फ़ोन पे ‘एप स्टोर’ से ‘ऍप्स’ डाउनलोड तो किये ही होंगे, साथ में इन्हें इनस्टॉल करते वक़्त आने वाले ‘परमिशन नोटिसों’ पर ‘टिक मार्क’ भी लगाया होगा।  बस यहीं हो जाती है सबसे बड़ी भूल।  जब भी हम कोई नया ‘एप’ इनस्टॉल करतें हैं, तो वह हमसे, हमारे फ़ोन कैमरे , हमारी फोटोगैलरी, कॉन्टेक्ट्स सब ‘Use’ करने के लिए परमिशन मांगता है। जिसे जल्द बाज़ी में हम ‘टिक मार्क’ और ‘Ok’ कर देतें हैं। ऐसा करने से वह घातक सेटिंग्स ऑन हो जातीं हैं।  दरअसल सभी ‘एप्स’ को हमारे फोटोज और कैमरे की परमिशन देनी ही नहीं चाहिए।  अगर आपने भी ऐसा कर भी दिया है, तो डरने की ज़रुरत नहीं, हम आपको बतातें हैं कैसे 3 स्टेप्स में आप उन सेटिंग्स तक पहुँच सकतें हैं और डिसएबल भी कर सकते हैं।

पहला स्टेप

अपने फ़ोन की ‘सेटिंग’ में ‘App’ में जाएँ यहाँ App Permission में क्लिक करें।  आपके सामने एक लिस्ट खुली होगी इसमें ‘कैमरे’ के ऑप्शन को चुनें। जिससे आपके सामने एप लिस्ट खुलेगी, ये वही एप्स हैं जिनकों आपने जाने अनजाने अपने कैमरे को यूज़ करने की परमिशन दी थी। इस लिस्ट में से उन एप्स को ‘Uncheck’ कर दें जिन्हें कैमरे की इस्तेमाल की ज़रुरत नहीं।

दूसरा स्टेप

अब इसी तरह बैक जाकर कैमरे की जगह कॉन्टैक्ट के आइकॉन पर टैप करें और खुलने वाली लिस्ट में से उन एप्स की परमिशन रद्द कर दें जिन्हें कॉन्टैक्ट यूज़ करनें की कोई ज़रुरत नहीं।  ठीक वैसे ही जैसा आपने पहले पहले स्टेप में किया था।

तीसरा स्टेप

इसी तरह Settings —>App —->App Permission में जाते हुए माइक्रोफोन के आइकॉन को क्लिक करें।  अब पहले स्टेप की ही तरह फेसबुक , एफ.एम. रेडियो वगैरह एप्स जिन्हें माइक्रोफोन की आवश्यकता नहीं है उन पर से भी परमिशन ऑफ कर दें।

तो दोस्तों ये थे वह 3 स्टेप्स जिनसे आप अपनी प्राइवेसी को ख़तरे में पड़ने से और अपने महत्वपूर्ण डाटा को गलत हाथोँ में जाने से बचा सकते हैं।  तो दोस्तों ऐसे ही जानकारी भरे और रोचक लेखों और वीडियोस के लिए Like करें हमारा फेसबुक पेज और यूट्यूब चैनल “सही पकडे हैं”, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY