Home Blog Page 22

डेरिनकोयु का रहस्य : प्राचीन काल के खोये हुए भूमिगत शहरों का जटिल तंत्र

0

सन १९६३ में Omer Demir नामक खोज करता ने एक एक्सपीडिशन के दौरान टर्की के Cappadocia कसबे के करीब एक बहोत गहरे छेद को देखा।  ज़मीन पर बना ये छेद किसी आम गुफा का मुहाना नहीं लग रहा था।  उन्होंने छेद के अंदर प्रवेश कर निरिक्षण करने का मन बना लिया।  जब Omer Demir ने उस छेद के अंदर झाँका उन्हें एक रास्ता दिखा जो बहुत ही खड़ी ढलान लिए हुए था। 

वे उस रास्ते के सहारे उतरते गए।  काफी गहराई में उतरने के बाद उन्हें अहसास हुआ की ये ज़मीनी छेद प्राकृतिक तौर पर नहीं बना है बल्कि मानव निर्मित है।  थोड़ा और नीचे उतरने पर जो उन्हें दिखाई दिया वह चौंका देने वाला था। उन्होंने प्राचीन काल के खोये हुए भूमिगत शहरों के जटिल तंत्र की खोज की थी। …..

अमेरिका के ग्रैंड कैनियन के नीचे दबी गुप्त भूमिगत नगरी, खोलने वाली है गोरों के पूर्वजों का राज़

0

आख़िर क्यों छुपा रहा है अमेरिका ये प्राचीन पुरातात्विक खोज ?

क्या अमेरिका ह्यूमन एवोलुशन की एक महत्वपूर्ण खोज सिर्फ इसलिए छुपा रहा क्योंकि उसे अपने पूर्वजों का रहस्य पता लग गया है ?

क्या अमेरिका नहीं चाहता  गोरे यूरोपियन्स की उत्पत्ति के मिस्री कनेक्शन को ज़ाहिर करना ?

मिस्र का विशाल रहस्यमयी भूमिगत भँवरजाल Labyrinth of Egypt

0

विश्व की विभिन्न संस्कृतियों में प्रचलित दंत कथाओं में धरती के गर्भ में बसे अलौकिक नगरों का वर्णन उपस्थित है। इन भूमिगत शहरों में गोपनीय कक्षों से लेकर , गुप्त देवालय और प्राचीन काल के कुछ महापुरुषों की समाधियाँ या मक़बरे भी हैं….

पदमावती, भंसाली और कॉन्ट्रोवर्सी : “आस्था को ठेस” बनाम “अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता “

0

कुछ ही महीनों पुरानी बात है जब मशहूर निर्देशक संजय लीला भंसाली के साथकरणी सेनाके लोगों ने जमकर झूमाझटकी की थी और तोड़ फोड़ कर पदमावती फ़िल्म की शूटिंग बंद करवा दी थी। अब यह फिल्म बनकर तैयार है और भंसाली ने अपनी फिल्म का ट्रेलर लांच कर दिया है।  ये ट्रेलर २४ घंटों के अंदर ही वायरल हो गया है और सबसे तेज़ी से १५ मिलियन व्यूज के पड़ाव को पार करने का रिकॉर्ड बनाया है।  जो यूट्यूब के इतिहास में दुनिया की किसी भी फिल्म ने नहीं किया है।  बहरहाल सवाल ये है की क्या कॉन्ट्रोवर्सी , आस्था और मीडिया का तड़का आधुनिक मनोरंजन के व्यंजनों के अभिन्न इंग्रीडिएंट्स हैं ?

अमिताभ बच्चन कर चुके हैं असली शेर से लड़ाई देखें चित्र

0

दिलीप कुमार के बाद अगर किसी कलाकार ने उम्र के आखिरी पड़ाव में भी अपनी स्टारडम और लोकप्रियता को बनाये रखा है तो वह हैं अमिताभ।  आज अमिताभ बच्चन अपना ७४वां जन्मदिन मनाने वाले हैं।  इस मौके पर हम हमारे अतिप्रिय पाठकों के लिए ले कर आयें हैं एक बेहद दिलचस्प क़िस्सा। 

ये बात है उन दिनों की जब फिल्मों के बजट आजकल की राजसी ठाठ बाठ वाली शादियों से कम थे।  ज़ाहिर सी बात है की किसी भी फ़िल्म में सबसे ज्यादा खर्च दो चीज़ों पर होता है, एक गाने दूसरा एक्शन सीन्स।  बीते दशकों की फिल्मों में तो स्टंट करने वाले स्टंटमैनों का जीवन ही अल्प हुआ करता था।  कारण था सेफ्टी उपकरणों का उपयोग ना होना।  बात ये थी की स्टंट्स से ज्यादा खर्च स्टंट में इस्तेमाल होने वाले सेफ्टी उपकरणों पर हो सकता था इसलिए फिल्म निर्माता निर्देशक इनके इस्तेमाल से बचते थे। 

किस्सा उसी ही कालखंड का है जब अमिताभ एक सफल कलाकार से सदी के महानयक बनने की राह पे थे।  फिल्म खून पसीना की शूटिंग चल रही थी।  जब अमिताभ को निर्देशक ने कहा की आपको फिल्म के एक महत्वपूर्ण सीन के लिए असल के बंगाल टाइगर से लड़ना होगा।  यदि आधुनिक युग के प्लास्टिक सितारे होते तो निर्देशक निर्माता को अपनी वातानुकूलित वैनिटी वन में बुलाकर अपने स्टारडम के नखरे दिखा देते।  लेकिन अमिताभ तो अमिताभ थे उन्होंने इस मौके को दोनों हाथ से पकड़ लिया।  फिर क्या था ये सीन यादगार बन पड़ा और फिल्म खून पसीना एक बड़ी हिट साबित हुई। 

नीचे दिए श्वेत श्याम चित्र जिसे खुद अमिताभ ने अपने ट्विटर टाइम लाइन पे शेयर किया है ,में आप देख सकते हैं कैसे अमिताभ अपने भुजाओं की माला शेर के गले में डाले हुए हैं।  मानों शेर शेर नहीं बल्कि घर का कोई पालतू जानवर हो।  आशा करते हैं ये किस्सा आप लोगों को रोचक लगा हो आगे भी इसी तरह की मनोरंजक और रोचक लेखों ARTICLES के लिए आप हमारे फेसबुक पेज सही पकड़े हैं को लाइक करें और अपने सुझाव कमैंट्स के माध्यम से भेजें। धन्यवाद।    

१० करोड़ की शादी मात्र १५० मेहमान और ४० दिन लंबा हनीमून

0

साउथ के सुपरस्टार जोड़े  समांथा रुथ प्रभु और नागा चैतन्य ने अपनी शादी को राजसी अंदाज़ में अंजाम दिया है   आपको जान के आश्चर्य होगा की इस भव्य शादी का बजट था १० करोड़ और आने वाले मेहमान थे  मात्र १५०।  इस बात से ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है की मेहमानवाज़ी पे बेइंतेहा दौलत लुटाई गयी  है। 

जिन पाठकों को समांथा रुथ और नागा चैतन्य के बारे में मालूम नहीं है उन्हें हम बताना चाहेंगे की ये साउथ की फिल्मों के बहोत ही चमकीले सितारे हैं। चैतन्य ने जहाँ पिता नागार्जुन के पद चिन्हों पे चलते हुई एक सफल फ़िल्मी करियर की राह पे हैं वहीँ समांथा अपनी बाला की खूबसूरती और शोख अदाओं से पूरी साउथ फिल्म इंडस्ट्री का दिल जीत चूकिं हैं।

 इस खूबसूरत जोड़े के बीच की रुमानियत सालों पुरानी है।  ये बताना हम ज़रूरी समझतें हैं की इस लिव इन रिलेशनशिप के दौर में समांथा और नागा ने अपनी प्रेम को गरिमा पूर्ण ढँग से रील लाइफ और रियल लाइफ दोनों में भी निभाया है  

कहाँ हुई ये सितारों से सजी हुई शादी

ये शादी हुई है  गोवा में।  सामंथा ने जब अपनी शादी की फोटोग्राफ्स इंस्टाग्राम पे शेयर की तो मानों इस सोशल नेटवर्किंग साइट पे आग सी लग गयी।  लोगों ने महज़ मिनटों में इस पोस्ट को इंटरनेट पे वायरल कर दिया।  गोवा की मनोरम और रूमानी शाम में सामंथा अपनी वेडिंग ड्रेस में किसी परी की तरह दिख रहीं थी।  वहीँ नागा चैतन्य ने इंग्लिश में प्रचलित डार्क टॉल और हैंडसम की परिभाषा को चरितार्थ किया था। 

दो रीती रिवाज़ो से पूरी की गयी रसम

अक्टूबर को जोड़े ने हिन्दू रीती रिवाजो से विवाह किया वहीँ अक्टूबर को इस जोड़े ने क्रिस्चियन सेरेमोनियल वेडिंग की। 

४० दिन लम्बे हनी मून का है प्लान

सामंथा और नागा ने ये तय किया है की सबसे पहले दोनों लंबित फिल्मों की शूटिंग पूरी करेंगे।  उसके बाद ये जोड़ा फिल्म इंडस्ट्री को ४० लम्बे दिनों के लिए अलविदा कह देगा। वजह होगी एक रोमांटिक हनी मून।  जल्द ही हम अपने पाठकों के लिए इनके इस दिलकश ट्रिप की एल्बम के साथ उपस्थित होंगे। तब तक आप इस भव्य शादी की झलकियों का लुत्फ़ उठायें शादी का एल्बम आपके सामने है नेक्स्ट बटन दबाये और सारे वेडिंग फोटोग्राफ्स देखें.